Breaking News :
Home » » राष्ट्रीय वीरता पुरस्कार 2016

राष्ट्रीय वीरता पुरस्कार 2016

Written By Smart Edu Services on बुधवार, 18 जनवरी 2017 | 9:10 pm

हाल ही में राष्ट्रीय वीरता पुरस्कार की घोषणा की गई है। जिसमें प्रतिष्ठित ‘भारत पुरस्कार’ के लिए तर्ह पीजू को चुना गया है.

  • 17 जनवरी 2017 को 25 बच्चों को वर्ष 2016 के राष्ट्रीय वीरता पुरस्कार से सम्मानित करने हेतु चुना गया है।
  • इसमें 12 लड़कियां और 13 लड़के शामिल हैं।इनमें से 4 बच्चों को यह पुरस्कार मरणोपरांत प्रदान किया जायेगा।
  • प्रमुख पुरस्कार और उनके प्राप्तकर्ताओं के नाम इस प्रकार हैं-भारत पुरस्कार- स्व.कु. तर्ह पीजू (8 वर्ष), अरुणाचल प्रदेश को प्रदान करने की घोषणा की गई है।
  • यह पुरस्कार असाधारण वीरता के लिए दिया जाता है। 
  • पीजू ने अपने दो दोस्तों को डूबने से बचाने में अपने प्राणों की आहुति दे दी।गीता चोपड़ा पुरस्कार-तेजस्विता प्रधान (18 वर्ष) और शिवानी गोंड (17 वर्ष)-दोनों पश्चिम बंगालसंजय चोपड़ा पुरस्कार-1 मास्टर सुमित ममगैन (15 वर्ष)-उत्तराखंडबापू गैधानी पुरस्कार- स्व.कु.रोलुहपुई (13 वर्ष) और स्व.कु. एच. ललहरीयतपुई (14 वर्ष) दोनों मिजोरम, तथा मास्टर तुषार वर्मा (15 वर्ष) छत्तीसगढ़।
  • उल्लेखनीय है कि राष्ट्रीय वीरता पुरस्कार 6 वर्ष से अधिक एवं 18 वर्ष से कम आयु के बच्चों को उनके वीरतापूर्ण कार्यों के लिए प्रदान किया जाता है।
  • वर्ष 1957 से प्रारंभ यह पुरस्कार भारतीय बाल कल्याण परिषद (Indian Council for Child Welfare-ICCW) द्वारा प्रदान किया जाता है।
  • गौरतलब है कि भारतीय बाल कल्याण परिषद ने वर्ष 1987-88 से असाधारण मेधा व बहादुरी के लिए ‘भारत पुरस्कार’ की शुरुआत की।
  • दूसरे विशेष पुरस्कारों गीता चोपड़ा और संजय चोपड़ा पुरस्कार को वर्ष 1978 में शामिल किया गया था।
  • वर्ष 1988-89 में आईसीसीडब्ल्यू द्वारा बापू गैधानी पुरस्कारों की शुरुआत की गई।
  • ये बच्चे 23 जनवरी, 2017 को एक विशेष समारोह में प्रधानमंत्री से पुरस्कार ग्रहण करेंगे।
Share this post :

टिप्पणी पोस्ट करें