Breaking News :
Home » » स्वास्थ्य बीमा - दुर्घटनाओं में रोजाना 400 मौतें, सस्ता बीमा फिर भी 20000 में से एक ही लेता है क्लेम

स्वास्थ्य बीमा - दुर्घटनाओं में रोजाना 400 मौतें, सस्ता बीमा फिर भी 20000 में से एक ही लेता है क्लेम

Written By Smart Edu Services on रविवार, 25 दिसंबर 2016 | 10:07 am

स्वास्थ्य बीमा (Health Insurance) के तहत आप हर वर्ष बहुत छोटी रकम (Premium) देकर अपने आपको तथा अपने परिवार को चिकित्सा खर्चो से सुरक्षा प्रदान कर सकते हैं।
स्वास्थ्य बीमा का महत्त्व
कई लोगों को सिर्फ स्वास्थ्य बीमा न होने के कारण ईलाज से वंचित रहते और आर्थिक मुश्किलों का सामना करते देखा हैं। बीमारी कभी बोल कर नहीं आती हैं और आज के दौड़ भाग के युग में ह्रदय रोग  और मधुमेह जैसी बीमारिया भी 25-30 वर्षो के व्यक्तिओ को अपने चपेट में ले रही हैं। ऐसे में जरुरी हैं कि आप अपने आप को और अपने परिवार को किसी भी बिमारी की अच्छी से अच्छी चिकित्सा प्राप्त करने के लिए और चिकित्सा खर्च के आकस्मिक बोझ से बचने के लिए स्वास्थ्य बीमा सुविधा का उपयोग जरुर करे। आजकल चिकित्सा का खर्च दिन ब दिन बढ़ते जा रहा है। चिकित्सा का आकस्मिक खर्च हमारे आर्थिक नियोजन को बहुत बड़ा झटका दे सकता है।

हमें लगता है कि स्वास्थ्य बीमा एक फिजूलखर्च है और हमें इतनी बड़ी बीमारी नहीं है जो यह सब लेने की जरुरत हैं। हम 60 हजार की मोटरसाइकिल के लिए हर वर्ष 1000 रूपए का बीमा निकाल सकते है पर अपने परिवार को स्वास्थ्य सुरक्षा प्रदान करने की बात को फिजूलखर्ची समझते हैं। कुछ देशो में तो हर व्यक्ति का स्वास्थ्य बीमा अनिवार्य हैं। ऐसा भी नहीं हैं कि हमें इसके लिए कोई बहुत ज्यादा खर्च करना होता हैं।उदाहरण के तौर पर अगर किसी व्यक्ति की आयु 30 वर्ष है और उनके परिवार में उनकी बीबी और एक 3 साल का बच्चा है तो उन तीनो के लिए अगर वह 3 लाख का स्वास्थ्य बीमा लेता है तो उन्हें लगभग सालाना 6-7 हजार रूपए premium भरना पड़ सकता हैं। अगर उनके परिवार में कोई 4 साल में भी बीमार पड़ता है तो भी उनका हॉस्पिटल का बिल उनके इतने दिनों में भरे गए premium से ज्यादा ही होंगा।
स्वास्थ्य बीमा और term plan यह दो चीजे है जो हर शादीशुदा और कमाई करने वाले व्यक्ति को अपने परिवार को संपूर्ण सुरक्षा प्रदान करने के लिए जरुर लेना चाहिए।
आर्थिक और स्वास्थ्य सुरक्षा के अतिरिक्त स्वास्थ्य बीमा के लिए भुगतान की हुई राशी के लिए आपको आयकर में भी छुट मिलती हैं।
स्वास्थ्य बीमा (Health Insurance) से जुडी निम्नलिखित महत्वपूर्ण बातो का ख्याल रखे :
  • स्वास्थ्य बीमा की सभी शर्तो को अच्छे से पढ़े | स्वास्थ्य बीमा की कई अलग तरह की policy होती है। आप अपने आयु और परिवार को ध्यान में रखकर योग्य policy का चयन करे।
  • जब आप कोई स्वास्थ्य बीमा (Health Insurance) policy खरीदते है प्रथम वर्ष में पहले महीने / 30 दिन तक किसी रोग की चिकित्सा का दावा कवर नहीं होता हैं पर इन दिनों में दुर्घटना या चोट का दावा कवर होता हैं।
  • एक परिवार के लिए कम से कम 3 लाख की Family Floater जैसी policy होनी चाहिए |
  • स्वास्थ्य बीमा (Health Insurance) फॉर्म में संपूर्ण जानकारी भरे और कोई बीमारी के इतिहास होने पर उसे छुपाए नहीं।
  • स्वास्थ्य बीमा (Health Insurance) जिनके लिए ले रहे हैं उनका स्वास्थ्य इतिहास, नाम, उम्र और जन्मतारीख फॉर्म के अन्दर सही दर्ज करे।
  • स्वास्थ्य बीमा (Health Insurance) में कौन से रोग का समावेश नहीं है अथवा कितने वर्षो के बाद बीमा में समावेश हो सकते है उसकी जानकारी प्राप्त करे। उदा : स्वास्थ्य बीमा के प्रथम दो वर्षो में हर्निया, हाइड्रोसिल, बवासीर और मोतियाबिंद जैसे कई रोगों का समावेश नहीं होता हैं।
  • अगर कभी हॉस्पिटल में चिकित्सा के लिए भर्ती होना पड़े तो तुरंत अपना स्वास्थ्य बीमा (Health Insurance) कार्ड और फोटो पहचान पत्र हॉस्पिटल के स्टाफ / डॉक्टर को दिखा देना चाहिए ताकि cashless की सुविधा होने पर आपको इसका लाभ मिल सके।
  • अगर हॉस्पिटल में Cashless की सुविधा नहीं होती है तो भर्ती होने के बाद 12 घंटे के अन्दर स्वास्थ्य बीमा (Health Insurance) कंपनी को कार्ड के पीछे दिए हुए Toll Free नंबर पर फोन कर अपने हॉस्पिटल में भर्ती होने की जानकारी देनी चाहिए। इससे आपको Hospitalization Claim Reimbursement में दिक्कत नहीं आती हैं।
  • स्वास्थ्य बीमा (Health Insurance) का दावा / claim करते समय भेजे गए सभी दस्तावेजो की xerox copy अपने पास रखनी चाहिए।
  • अगर आपको आपके स्वास्थ्य बीमा (Health Insurance) कंपनी से कोई शिकायत है या भुगतान में कोई तकलीफ आती है तो आप इसकी शिकायत / जानकारी complaints@irda.gov.in पर कर सकते है या 155255 पर फोन कर भी दे सकते हैं।
  • एक छोटा सा premium देकर चिकित्सा के आकस्मिक खर्चो की परेशानी से बचिये और अगर भगवान ना करे कोई मुश्किल समय आये तो अच्छे से अच्छा ईलाज पाइए
Share this post :

टिप्पणी पोस्ट करें