Breaking News :
Home » » HSSC : क्लर्क भर्ती परीक्षा नहीं होगी रद्द, जांच टीम को नहीं मिले पेपर लीक होने के सबूत

HSSC : क्लर्क भर्ती परीक्षा नहीं होगी रद्द, जांच टीम को नहीं मिले पेपर लीक होने के सबूत

Written By Smart Edu Services on बुधवार, 4 जनवरी 2017 | 5:16 pm

एचएसएससी (हरियाणा कर्मचारी चयन आयोग) की जांच टीम को दिसंबर के पहले पखवाड़े में हुई क्लर्क भर्ती की लिखित परीक्षा में पेपर लीक के कोई सबूत नहीं मिले। पेपर लीक कांड के आरोप में पुलिस भले ही सात लोगों को अभी तक गिरफ्तार कर चुकी, मगर आयोग की जांच टीम की नजर में पूरा मामला नकल कराने से जुड़ा है।
आयोग की इस रिपोर्ट के बाद क्लर्क की भर्ती परीक्षा रद होने की आशंका लगभग खत्म हो गई है। अगले एक दो दिन में आयोग की जांच टीम अपनी रिपोर्ट चेयरमैन को सौंप सकती है। भिवानी के बीपीएस स्कूल में 11 दिसंबर को क्लर्क भर्ती परीक्षा की दूसरी पारी में आंसर-की मिलने के बाद इन परीक्षाओं की पवित्रता पर सवाल खड़ा हो गया था। प्रदेश सरकार और हरियाणा कर्मचारी चयन आयोग ने परीक्षा केंद्र में आंसर-की मिलने की दो स्तर पर जांच कराई। सरकार ने एसआइटी बनाई तो आयोग ने तीन सदस्यीय जांच कमेटी का गठन किया, जिसे पूरे मामले की जांच सौंपी गई।
आयोग के चेयरमैन भारत भूषण भारती के निर्देश पर जांच कमेटी ने बीपीएस परीक्षा केंद्र के सभी वीडियो फुटेज और रिकार्ड की जांच की। अन्य परीक्षा केंद्रों के फुटेज और रिकार्ड भी खंगाले, जिसके आधार पर माना गया कि पेपर लीक होने का नहीं, बल्कि नकल कराने का मामला है, जिसमें वर्षो से सक्रिय नकल माफिया शामिल है। जांच टीम का मानना है कि आरोपित व्यक्तियों ने तकनीक के जरिये प्रश्न पत्र हासिल करने के बाद आंसर-की तैयार की और उसे उन परीक्षार्थियों तक पहुंचाया, जिनसे उनकी डील हुई थी। नकल कराने के इस धंधे में पूरा रैकेट शामिल है। सूत्रों के अनुसार एसआइटी भी जांच में जुटी है, लेकिन आयोग की जांच टीम की रिपोर्ट आने के बाद एसआइटी की रिपोर्ट के अधिक मायने रह जाने की संभावना नजर नहीं आ रही है।’

जानकारी मिली है कि जांच टीम ने अपना काम लगभग पूरा कर लिया। अगले कुछ दिनों में जांच टीम अपनी रिपोर्ट पेश वाली है। रिपोर्ट पढ़े बिना कुछ भी टिप्पणी करना जल्दबाजी होगी। मैं यह बात दावे से कह सकता हूं कि परीक्षाओं की पवित्रता और पारदर्शिता बनाने का जो एजेंडा हमने तय किया है, उससे खिलवाड़ नहीं होने दिया जाएगा। - भारत भूषण भारती, चेयरमैन, हरियाणा कर्मचारी चयन आयोग
Share this post :

+ comments + 1 comments

23 अप्रैल 2018 को 3:52 pm


Terrific article! That is the kind of information that should be shared around the internet. Disgrace on the seek engines for now not positioning this put up upper! Come on over and consult with my site . Thank you =) yahoo email login

टिप्पणी पोस्ट करें