Breaking News :
Home » , , » खंदेरी : स्वदेश निर्मित स्कॉर्पियन श्रेणी की दूसरी पनडुब्बी

खंदेरी : स्वदेश निर्मित स्कॉर्पियन श्रेणी की दूसरी पनडुब्बी

Written By Smart Edu Services on रविवार, 15 जनवरी 2017 | 9:40 pm

12 जनवरी, 2017 को भारतीय नौसेना की स्वदेश निर्मित स्कॉर्पियन श्रेणी की दूसरी पनडुब्बी ‘खंदेरी’ का जलावतरण किया गया।
जिसके निर्माण के लिए फ्रांस की सहयोगी कंपनी मैसर्स डीसीएनएस ने प्रौद्योगिकी हस्तांतरित की है


  • 12 जनवरी, 2017 को भारतीय नौसेना की स्वदेश निर्मित स्कॉर्पियन श्रेणी की दूसरी स्टील्थ पनडुब्बी खंदेरी (Khanderi) का मझगांव डाक शिपयार्ड लिमिटेड (MDL), मुंबई में जलावतरण किया गया।
  • रक्षा राज्यमंत्री डॉ. सुभाष भामरे ने इसका उद्घाटन किया।
  • इस अवसर पर भारतीय नौसेना के प्रमुख सुनील लनबा उपस्थित थे।
  • इस पनडुब्बी का निर्माण मझगांव डॉक शिपबिल्डर्स लि. द्वारा किया गया।
  • ‘खंदेरी’ प्रोजेक्ट 75 के तहत विकसित की जाने वाली 6 स्कॉर्पियन पनडुब्बियों की शृंखला की दूसरी पनडुब्बी है।
  • यह स्टील्थ विशेषताओं से लैस है और इस कारण निर्देशित हथियारों से छुपकर हमला करने की क्षमता से युक्त है।
  • इसके द्वारा जल की सतह पर अथवा पानी के नीचे पोत-रोधी मिसाइलों व टारपीडो से हमला किया जा सकता है।
  • यह सभी तरह के मौसम में संचालित की जा सकती है।
  • यह पनडुब्बी कई प्रकार के मिशनों को अंजाम देने में सक्षम है।
  • इनमें पनडुब्बी रोधी युद्ध, सतह रोधी युद्ध, सूचना संग्रहण, क्षेत्र निगरानी आदि शामिल है।
  • गौरतलब है कि 1 मई, 2016 को स्कॉर्पियन श्रेणी की पहली पनडुब्बी ‘आईएनएस कलवरी’ का समुद्री के लिए जलावतरण किया गया था।
  • ज्ञातव्य है कि फ्रांस के मेसर्स डीसीएनएस व भारत के मझगांव डॉक शिपबिल्डर्स लि. के मध्य तकनीकी हस्तांतरण के आधार पर मझगांव डॉक शिपबिल्डर्स लि. द्वारा इन पनडुब्बियों का निर्माण किया जा रहा है।
  • वर्ष 2017 में नौसेना का पनडुब्बी विभाग अपनी स्वर्ण जयंती मना रहा है।
Share this post :

टिप्पणी पोस्ट करें